Tuesday, April 23, 2024
spot_img
HomeInteresting FactsElvish Yadav Arrested : विदेशी लड़कियां, सांपों का जहर, जानिए क्या होती...

Elvish Yadav Arrested : विदेशी लड़कियां, सांपों का जहर, जानिए क्या होती है स्नेक बाइट वाली रेव पार्टी

spot_img
spot_img

Elvish Yadav Arrested: नोएडा पुलिस ने यूट्यूबर और बिग बॉस ओटीटी 2 के विजेता एल्विश यादव (Elvish Yadav)को गिरफ्तार कर लिया है। बीते दिनों नोएडा पुलिस ने सांपों के जहर के साथ 5 लोगों को गिरफ्तार किया था और एल्विश यादव से पुलिस ने पूछताछ भी की थी। अब खबर सामने आ रही है कि एल्विश यादव को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। हालांकि, इस मामले की जांच करते हुए FSL की रिपोर्ट में यह जानकारी सामने आई थी कि रेव पार्टी से कलेक्ट किए गए सैम्पल में सांप का जहर मिला था। एल्विश के गिरफ्तारी के बाद कई लोगों के मन में ये सवाल उठ रहा होगा कि आखिर ये स्नेक बाइट वाली रेव पार्टी होती कैसी है। क्या ये भी आम पार्टियों की तरह होती है या इसमें कुछ अलग होता है। आज इस आर्टिकल के जरिए हम आपको इस बारे में डिटेल में बताएंगे…

कैसी होती है रेव पार्टी

रेव पार्टियां पूरी दुनिया में फेमस हैं। ज्यादातर इन पार्टियों में समाज का अमीर तबका ही पहुंचता है, क्योंकि इन पार्टियों में जाने के लिए इतना ज्यादा पैसे खर्च करने पड़ते है कि आम लोग इसके बारे में सोच भी नहीं सकते। इसके साथ ही ये पार्टियां आम पार्टियों के मुकाबले काफी अलग होती हैं। इन पार्टियों में पहुंचने वाले युवा तरह तरह का नशा करते हैं जो कई देशों में बैन भी है। यही कारण है कि भारत में भी इस तरह की रेव पार्टियां बैन हैं, इसे लीगल नहीं माना जाता, लेकिन इसके बावजूद भी कुछ लोग ऐसी पार्टियां ऑर्गनाइज्ड कराते हैं और एल्विश यादव पर ऐसी ही पार्टियों में स्नेक बाइट प्रोवाइड कराने का आरोप है।

इन रेव पार्टियों में और क्या होता है?

इस तरह की रेव पार्टियों में लोग सिर्फ आम पार्टियों की तरह नाचते, गाते और फूड एन्जॉय नहीं करते हैं, बल्कि, लोग इन पार्टियों में लोग ड्रग्स से लेकर चरस, अफीम और स्नेक बाइट तक का नशा करते है। इन पार्टियों में ऐसा माहौल बनाया जाता है कि लोग लंबे समय तक नशे में झूमते रहें, आपने फिल्मों में देखा ही होगा कि इन पार्टियों में किस तरह युवा नशे में डूबे रहते हैं।

भारत में बैन है रेव पार्टी

भारत में इस तरह की रेव पार्टियां बैन हैं जहां अवैध तरीके के नशे कराए जाते हैं। अगर कोई व्यक्ति इस तरह की पार्टी में जाता है या इसे ऑर्गेनाइज कराता है तो पकड़े जाने पर सजा का भी प्रावधान है। यही कारण है कि देश के अलग-अलग इलाकों में इस तरह की पार्टियों पर नार्कोटिक्स विभाग अक्सर छापे मारी करता रहता है।

बता दें कि, सांप के जहर सप्लाई मामले में गुप्त जगह पर एल्विश यादव से पुलिस पूछताछ चल रही है। इस दौरान नोएडा पुलिस के बड़े अधिकारी भी मौके पर मौजूद हैं।

डीसीपी नोएडा विद्या सागर मिश्रा ने बताया कि नोएडा पुलिस ने एल्विश यादव को आज कोर्ट में पेश किया जाएगा। एल्विश यादव पर में दिल्ली-एनसीआर में पार्टियों में मनोरंजन के लिए सांप का जहर उपलब्ध कराने के आरोप में पांच अन्य लोगों के साथ मामला दर्ज किया गया था। इस संबंध में एक पशु कल्याण कार्यकर्ता ने शिकायत दर्ज कराई थी. पुलिस ने इस मामले पहले भी एल्विश यादव से पूछताछ की थी और मामले की जांच चल रही थी।

एल्विश यादव की पार्टी में कहां से आए थे सांप?

पुलिस ने इस मामले में कई आरोपियों को भी पकड़ा था, जिसमें आरोपियों ने जानकारी देते हुए बताया था कि एल्विश यादव (Elvish Yadav) की पार्टियों में बदरपुर से सांप लाए जाते थे। वहीं आरोपी राहुल ने पुलिस को बताया है कि वह रेव पार्टी में सांप और जहर का इंतजाम करता था, जैसी डिमांड होती थी, उसी के अनुसार सपेरे से लेकर ट्रेनर और बाकी चीजें प्रोवाइड कराता था. वह इसे दिल्ली के बदरपुर के पास के एक गांव से लाता था, इसे सपेरों का गढ़ माना जाता है।

इसके साथ ही इस मामले में हरियाणवी सिंगर फाजिलपुरिया का भी नाम सामने आया था. इस केस में आरोपी राहुल के घर से एक लाल डायरी बरामद हुई थी जिसमें संपेरो के नंबर, बुकिंग और पार्टी में शामिल लोगों के नाम का ब्यौरा दर्ज था। वहीं डायरी में एलविश और फजलपुरिया के बीच मुलाकात का भी ब्यौरा दर्ज था। डायरी में एल्विश की नोएडा के फिल्म सिटी और छतरपुर के फार्म हाउस पार्टी का भी जिक्र था। इस डायरी में बॉलीवुड, यूट्यूबर के लिए रेव पार्टी में पहुंचाए गए सांप, वेनम, सपेरे, ट्रेनर का जिक्र था, जिसके हर पेज पर पार्टी का दिन, आयोजक का नाम, लोकेशन, समय और पेमेंट का हिसाब-किताब लिखा था।

spot_img
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

spot_img

Recent Comments

Ankita Yadav on Kavya Rang : गजल