Thursday, April 25, 2024
spot_img
HomeInteresting FactsUnique Country : इस देश में नहीं है एक भी सड़क, कार-बाइक...

Unique Country : इस देश में नहीं है एक भी सड़क, कार-बाइक की जगह लोग लेकर घूमते हैं नाव

spot_img
spot_img

Unique Country : देश-दुनिया में कई ऐसी जगहें हैं जो अपनी खूबसूरती के लिए जानी जाती हैं, लेकिन आज हम आपको ऐसी अनोखे जगह (Unique Country) के बारे में बताएंगे जो केवल अपनी खूबसूरती के लिए तो फेमस है ही, लेकिन यहां एक भी सड़क नहीं है। चौंक गए न, कि ऐसा कैसे हो सकता है, बिना सड़क के लोग कैसे कहीं आते-जाते होंगे। जी, यहां ऐसा ही है। यहां सभी लोग अपनी कार बाइक की जगह अपनी-अपनी नाव लेकर घूमते हैं। अब आप सोच रहें होंगे कि भला ऐसी कौन सी जगह है, ऐसे कई सवाल आपके मन में होंगे, तो चलिए फिर आपको बताते है इस खूबसूरत जी जगह के बारे में…

Unique Country : यहां स्थित है वो जगह

दरअसल, हम जिस जगह (Unique Country) की बात कर रहे है, वो नीदरलैंड में बसा छोटा सा गांव गिथॉर्न (Netherlands Giethoorn Village) है। ये गांव इतना खूबसूरत है कि इससे नजर हटाना काफी मुश्किल है, या आपका मन मोह लेगा। इस गांव में आपको ना ही कोई प्रदूषण ना ही सड़कों पर गंदगी दिखेगी। ऐसा इसलिए क्योंकि यहां सड़क की जगह पानी है।

Also read – Stone Currency : दुनिया की एक ऐसी जगह जहां आज भी नहीं चलती करेंसी, जानिए किस तरह से होता है लेनदेन

गांव की खूबसूरती पर्यटकों को करती है आकर्षित

नीदरलैंड का ये गांव हर किसी को अपनी ओर आकर्षित कर लेता है। यहां हजारों पर्यटक आते हैं और यहां के मनमोहक नजारों का आनंद लेते हैं। यहां नहर में बिजली की मोटरों की मदद से नावें चलती हैं, जिसमें बैठकर लोग आते-जाते हैं।

यहां लोगों को नहीं पड़ती रोड की जरुरत

इस गांव में जिसे भी कहीं जाना हो वह नाव के सहारे ही जा सकता है। यहां लोगों को सड़कों की भी जरूरत नहीं होती, ना यहां गाड़ियां चलती है, इसलिए यहां हॉर्न का शोर-शराबा भी नहीं है। यहां कुछ लोगों ने अपनी सुविधा के लिए एक जगह से दूसरी जगह जाने के लिए गांव से गुजरने वाली नहर पर लकड़ी का पुल बना लिया है।

हर किसी के पास है अपना खुद का नाव

इस गांव में 180 से ज्यादा पुल हैं। जिससे होकर लोग नहर पार कर लेते हैं। यहां रहने वाले लोगों के पास अपना खुदका नाव हैं, जिसकी मदद से वह नहरों के माध्यम से एक स्थान से दूसरे स्थान तक यात्रा करते हैं। लगभग सभी घरों के पास अपनी नाव होती है।

1230 में हुई थी इस गांव की स्थापना

नीदरलैंड के इस गांव में करीब 3000 लोग रहते हैं। इस गांव की स्थापना 1230 में हुई थी और इसे मूल रूप से गैटेनहॉर्न कहा जाता था। बाद में इसका नाम बदलकर गिथॉर्न रखा गया। गांव में नहर बनाने के पीछे भी एक इतिहास है। ऐसा कहा जाता है कि 1 मीटर गहरे इन नहरों को ईंधन में उपयोग किए जाने वाले एक प्रकार के घास को एक छोर से दूसरे छोर पर ले जाने के लिए किया गया था। खुदाई के दौरान यहां कई तालाब और झील बन गई। तब, शायद किसी को यह अंदाजा नहीं होगा कि पीट पहुंचाने के लिए बनाई गई नहरों के कारण यह जगह दुनिया के नक्शे पर खूबसूरत पर्यटक स्थल के रूप में छा जाएगी।

देश-विदेश की ताजा खबरें पढ़ने और अपडेट रहने के लिए आप हमें Facebook Instagram Twitter YouTube पर फॉलो व सब्सक्राइब करें।

Join Our WhatsApp Group For Latest & Trending News & Interesting Facts

spot_img
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

spot_img

Recent Comments

Ankita Yadav on Kavya Rang : गजल