Saturday, June 22, 2024
spot_img
spot_img
HomeNationalGyanvapi Survey : ASI सर्वे को लेकर असदुद्दीन ओवैसी ने कही ये...

Gyanvapi Survey : ASI सर्वे को लेकर असदुद्दीन ओवैसी ने कही ये बड़ी बात, अयोध्या का भी किया जिक्र

spot_img
spot_img
spot_img

Gyanvapi Survey : वाराणसी में ज्ञानवापी परिसर का भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) की टीम सर्वे कर रही है, सर्वे का आज दूसरा दिन है। शनिवार की सुबह ASI की टीम ज्ञानवापी परिसर पहुंच चुकी है। ज्ञानवापी के वजूखाने को छोड़कर पूरे परिसर की जांच होगी। वहीं दूसरी ओर ASI सर्वे (Gyanvapi Survey) को लेकर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के चीफ असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने ट्वीट किया है।

Gyanvapi Survey : असदुद्दीन ओवैसी ने लिखा

उन्होंने ट्वीट कर लिखा है, “एक बार जब ज्ञानवापी एएसआई रिपोर्ट सार्वजनिक हो जाएगी, तो कौन जानता है कि चीजें कैसे आगे बढ़ेंगी? आशा है कि न तो 23 दिसंबर और न ही 6 दिसंबर की पुनरावृत्ति होगी. पूजा स्थल अधिनियम की पवित्रता के संबंध में अयोध्या फैसले में सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी का अनादर नहीं किया जाना चाहिए. आशा यह है कि एक हजार बाबरियों के लिए फ्लडगेट्स नहीं खोले जायेंगे.”

बता दें कि, आज ज्ञानवापी परिसर (Gyanvapi Survey) के एसआई सर्वे का दूसरा दिन है। पहले दिन यानी शुक्रवार को 5 घंटे तक सर्वे चला। जिसमें से ज्यादा समय तक परिसर की आकृति तैयार की गई है। माप-झोख की गई, दीवारों से साक्ष्य जुटाए गए। ASI की 41 सदस्यों की टीम ने चार हिस्सों में बंटकर सर्वे किया। तीनों गुंबद के नीचे और तहखानों में सर्वे की रूपरेखा तैयार की गई। शनिवार को परिसर की रेडिएशन के जरिये जांच की जाएगी।

वहीं दूसरी ओर, ASI सर्वे के हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट गए मुस्लिम पक्ष को बड़ा झटका लगा। दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद जज ने हाईकोर्ट का फैसला रोकने या बदलने से मना कर दिया और सर्वे को जारी रखने का भी आदेश दिया।

देश-विदेश की ताजा खबरें पढ़ने और अपडेट रहने के लिए आप हमें Facebook Instagram Twitter YouTube पर फॉलो व सब्सक्राइब करें।

Join Our WhatsApp Group For Latest & Trending News & Interesting Facts

spot_img
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

spot_img

Recent Comments

Ankita Yadav on Kavya Rang : गजल