Saturday, June 22, 2024
spot_img
spot_img
HomeNationalNDA संसदीय दल के नेता चुने गए नरेंद्र मोदी, कहा- लिखेंगे विकास...

NDA संसदीय दल के नेता चुने गए नरेंद्र मोदी, कहा- लिखेंगे विकास का नया अध्याय, सांसदों से की ये खास अपील

spot_img
spot_img
spot_img

NDA Meeting : 9 जून को नरेंद्र मोदी दिल्ली में प्रधानमंत्री की शपथ ग्रहण करेंगे. वहीं इससे पहले आज एनडीए संसदीय दल की बैठक हुई. जिसमें उन्हें एनडीए के संसदीय दल का नेता चुना गया. इसके बाद उन्होंने एनडीए संसदीय दल की बैठक को संबोधित किया. आइए जानते है इस बैठक में पीएम मोदी की 10 अहम बातें…

नरेंद्र मोदी ने कहा, अगर मैं एक तरफ NDA रखूं और दूसरी तरफ भारत के लोगों के सपने और संकल्पों को रखूं तो मैं कहूंगा… NDA
N- New India, D- Develop India, A- Aspirational India. इन सपनों और संकल्पों को पूरा करना… ये हम सबका संकल्प भी है, कमिटमेंट भी है और हमारे पास रोडमैप भी है।

नरेंद्र मोदी ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि एनडीए सरकार में अगले दस साल में गुड गवर्नेंस, विकास, नागरिकों के जीवन में क्वालिटी ऑफ लाइफ, समान्य मानवी के जीवन में से खासकर मध्यम और उच्च मध्यमवर्ग के जीवन में से सरकार की दखल जितनी कम हो उतनी लोकतंत्र की मजबूती है

संसदीय दल की बैठक में पीएम मोदी ने कहा कि गोद में उन्माद पैदा नहीं होता और ना ही पराजित लोगों के प्रति उपहास करने के हमारे संस्कार हैं. हम विजय को भी पचाते हैं और पराजित का उपहास करने की विकृति नहीं पालते, यही तो हमारे संस्कार हैं. आप किसी भी बालक को पूछिए कि लोकसभा चुनाव के पहले सरकार किसकी थी, वो कहेगा एनडीए. 2024 के नतीजों के बाद सरकार किसकी बनीं, वो फिर कहेगा एनडीए तो हारे कहां से. पहले भी एनडीए थी, आज भी एनडीए है और कल भी एनडीए है. आप सोचिए 10 साल बाद भी कांग्रेस 100 के आंकड़े को नहीं छू पाई..

पीएम मोदी ने कहा,हम विकास का नया अध्याय लिखेंगे, गुड गवर्नेंस का नया अध्याय लिखेंगे, जनता-जनार्दन की भागीदारी का नया अध्याय लिखेंगे और सब मिलकर के विकसित भारत के सपने को साकार करके रहेंगे।

नरेंद्र मोदी ने कहा, NDA सत्ता प्राप्त करने का या सरकार चलाने का कुछ दलों का जमावड़ा नहीं है… ये Nation-First के प्रति committed एक समूह है!

सभी सांसदों से अपील करते हुए नरेंद्र मोदी ने कहा कि, किसी के भी बहकावे में न आएं. ऐसे ही कोई आपको फोन करके कह दे कि आप मंत्री बनने जा रहे हैं तो उस पर यकीन न करें. पहले ये चेक करें कि फोन करने वाला अथॉरिटी है भी या नहीं. मंत्री किसको बनाया जाए ये उनकी अनुभवी टीम तय करेगी. पीएम मोदी ने कहा कि उनको ये समझ नहीं आता कि आखिर ये गपगोले लाते कहां से हैं.

नरेंद्र मोदी ने कहा, हमने जो पिछले 10 वर्ष में काम किया था वो तो सिर्फ एक ट्रेलर था. हम औऱ तेजी से आगे बढ़ेंगे. जनता चाहती है कि हम पहले से ज्यादा डिलिवर करें, जनता चाहती है कि हम पुराने रिकॉर्ड तोड़ें. मैं एक तरफ एनडीए रखूं और भारत के सपने को रखूं तो मैं कहूंगा एनडीए. न्यू इंडिया, डेवलप्ड इंडिया और एनस्प्रेशनल इंडिया।

नरेंद्र मोदी ने बताया कि हमारी सरकार का एजेंडा अगले 10 साल में सुशासन, विकास, नागरिकों के जीवन की गुणवत्ता में सुधार है. मेरा व्यक्तिगत रूप से एक सपना है. सामान्य मानव के जीवन में से सरकार का दखल जितना कम होगा, उतना ही लोकतंत्र मजबूती होगा.

4 जून के पहले ये लोग (इंडी गठबंधन) ईवीएम को लगातार गाली दे रहे थे और ये लोग तय करके बैठे थे कि भारत के लोकतंत्र की प्रक्रिया के प्रति लोगों का विश्वास ही उठ जाए। मुझे तो लगता था कि इस बार ये लोग ईवीएम का अर्थी जुलूस निकालेंगे, लेकिन 4 जून को शाम आते-आते उनको ताले लग गए… ईवीएम ने उनको चुप कर दिया। ये भारत के लोकतंत्र की ताकत है।

spot_img
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

spot_img

Recent Comments

Ankita Yadav on Kavya Rang : गजल