Tuesday, April 23, 2024
spot_img
HomeInteresting FactsLady Gangsters Of India : भारत की वो 8 कुख्यात महिला अपराधी,...

Lady Gangsters Of India : भारत की वो 8 कुख्यात महिला अपराधी, जिनका जुर्म की दुनिया में रहा बोलबाला

spot_img
spot_img

Lady Gangsters Of India : जब भी अपराध (Crime) या आतंकवाद की दुनिया की बात आती है, तो उसमें बड़े-बड़े अपराधियों, गैंगस्टर का नाम सामने आते है, लेकिन क्या आप जानते है भारत में कई महिलाओं ऐसी रही जिनका जुर्म की दुनिया में बोलबाला रहा। क्राइम में ये मर्दों से भी दो कदम आगे रही। इन्होंने अपनी कुख्यात आपराधिक गतिविधियों और नशीली दवाओं की तस्करी, मानव तस्करी, हत्या और लूट जैसे महानतम अपराधों को करने के अपने पेशेवर तरीके से अंडरवर्ल्ड पर राज किया। इनका खौफ लोगों के मन में इस कदर बसा रहा कि वे इनके नाम से थर-थर कांपते थे। आइए आज आपको ऐसी भारत की वो 8 कुख्यात महिला अपराधी (Lady Gangsters Of India) के बारे में बताएंगे, जो मोस्ट वांटेड की लिस्ट में शामिल रही।

Lady Gangsters Of India :जानें भारत की 8 कुख्यात महिला अपराधी के बारे में

गुजरात की संतोबेन सरमनभाई जडेजा

संतोबेन सरमनभाई जडेजा गुजरात की सबसे बड़ी लेडी डॉन मानी जाती थी, उन्हें गॉडमदर के नाम से भी जाना जाता था। वह गुजरात के काठियावाड़ की माफ़िया क्वीन थीं, जिस पर 14 हत्या के आरोप थे और उसके गिरोह के सदस्यों के खिलाफ 500 मामले थे। संतोबेन के पति की एक मामूली से गुंडे ने हत्या कर दी थी। पति की हत्या के बाद गैंग की कमान संतो ने संभाली। उन्होंने 1990-1995 में गुजरात से विधायक के रूप में भी काम किया। संतोबेन पर टाडा भी लगाया जा चुका है। इतना ही नहीं संतोकबेन का नाम 2005 में पोरबंदर नगरपालिका के एक भाजपा पार्षद केशु ओदेदरा की हत्या में भी सामने आया। शबाना आजमी की फिल्म ‘गॉडमादर’ उनके जीवन पर आधारित है।

Pic credit- Good News Today

हसीना पार्कर

हसीना पार्कर, जिसे ‘नागपाड़ा की गॉडमदर’ या ‘अप्पा’ के नाम से भी जाना जाता था, भारतीय अंडरवर्ल्ड के कुख्यात डॉन दाऊद की बहन थी। दाऊद के मुंबई से भागने के बाद उसके सभी अवैध कारोबार को संभालने वाली वही थी। 2014 में हार्ट अटैक से उसका निधन हो गया। श्रद्धा कपूर अभिनीत ‘हसीना पार्कर’ नाम की एक फिल्म उनके जीवन पर बनी है।

बेंगलूरू की के.डी.केमपम्मा

केडी केम्पम्मा, जिसे ‘साइनाइड मल्लिका’ के नाम से भी जाना जाता था, बैंगलोर की एक खतरनाक सीरियल किलर थी। वह भारत की पहली दोषी सीरियल किलर थीं, जो लोगों को बहला फुसलाकर एकांत स्थान पर लेजाकर हत्या कर देती थी। इस पर साइनाइड विषाक्तता के माध्यम से महिला मंदिर भक्तों को लूटने और मारने का आरोप भी था। उसे कानून द्वारा मौत की सजा सुनाई गई थी, जिसे बाद में आजीवन कारावास में बदल दिया गया था।

Pic Credit- Oneindia Hindi

रेशमा मेनन और शबाना मेनन

टाइगर मेमन की पत्नी रेशमा मेनन और अयूब मेनन की पत्नी शबाना मेनन को ब्लैक फ्राइडे और 1993 मुंबई बम बलास्ट के पीछे अपराधी मास्टरमाइंड होने के लिए जाना जाता है। ये दोनों महिलाएं आज भी फरार है। दोनों को भारत में वांटेड घोषित किया है। खुफिया एजेंसियों के अनुसार बताया जाता है कि दोनों वर्तमान में पाकिस्तान में छिपी हुई हैं।

अर्चना बालमुकुंद शर्मा

अर्चना बालमुकुंद अंडरवर्ल्ड डॉन ओम प्रकाश श्रीवास्तव की माशूका थी, यह घातक महिला गैंगस्टर अपनी ख़ूबसूरती के लिये फेमस थी। अंडरवर्ल्ड से जुड़ने से पहले अर्चना बालमुकुंद बॉलीवुड की में कुछ फ़िल्मों में काम कर चुकी है। उसके खिलाफ अनगिनत जबरन वसूली और अपहरण के मामले हैं। वह बबलू श्रीवास्तव गिरोह का हिस्सा थी और वर्षों से कानून के शिकंजे से बची हुई थी। साल 2010 खबर में आई कि नेपाल में गोली मारकर उसकी हत्या कर दी गई, लेकिन उसकी मौत की किसी भी तरह की पुष्टि नहीं हो पाई है। अर्चना बालमुकुंद शर्मा के नाम पर अभी तक 40 से अधिक देशों में रेड कार्नर नोटिस जारी है।

Photo Credit- Indiatimes.com

अफशां अंसारी

अफशां अंसारी, जो कि माफिया मुख्तार अंसारी की पत्नी है। अफशां पर गजल होटल लैंड डील, नंदगंज में सरकारी जमीन को कब्जा करने समेत 6 मामलों में मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस रिकॉर्ड में अफशां अंसारी की आइडेंटिटी इंटर स्टेट-191 गैंग की सदस्य के तौर पर है। 19 अप्रैल 2023, गाजीपुर पुलिस ने मोस्ट वांटेड क्रिमिनल्स की लिस्ट जारी की। जिसमें से एक नाम मुख्तार की बीवी अफशां का है। वहीं अफशां की इनामी राशि 25 हजार से बढ़ाकर 50 हजार रुपए कर दी गई है। यूपी पुलिस ने अफशां की तलाश में गाजीपुर, मोहम्मदाबाद, मऊ और लखनऊ में जगह-जगह दबिश दे रही है।

शाइस्ता परवीन

UP पुलिस की महिला अपराधियों की लिस्ट में माफिया अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता तीसरे नंबर पर है। अफशां की तरह उस पर भी 50 हजार का इनाम घोषित किया गया है। 24 फरवरी को हुए उमेश पाल हत्याकांड के बाद UP STF और पुलिस शाइस्ता को लगातार ढूंढ रही है। इस हत्याकांड में शाइस्ता को उमेश के घरवालों ने नामजद किया है। उसके पांच बेटों में तीसरे बेटे असद और पति अतीक की हत्या हो चुकी है। शाइस्ता दोनों के ही अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाई थी। शाइस्ता के पॉलिटिकल करियर की बात करें, तो उसने 5 जनवरी 2023 को बसपा की सदस्यता प्रयागराज में ले ली। इसके बाद वह बसपा के टिकट से मेयर की उम्मीदवारी की तैयारी करने लगी। शाइस्ता को पूरी उम्मीद थी कि बसपा के टिकट पर वह प्रयागराज की मेयर बन जाएगी। उसने चुनाव प्रचार भी शुरू कर दिया था।

Pic Credit- Hindustan

शाइस्ता कुशल नेता बनने की ओर चल पड़ी थी। बसपा की सदस्यता लेने के बाद शाइस्ता परवीन ने भाषण भी दिया था। जिसमें वह कुशल नेता की तरह जनता को संबोधित कर रही थी। कई लोगों ने शाइस्ता के भाषण के बाद उसकी तारीफ भी की थी। तब शाइस्ता ने कहा था कि उनका पूरा परिवार हमेशा से बहन जी यानी मायावती के साथ रहा है। उसने कहा था कि उनके साथ न्याय होगा। …लेकिन शाइस्ता बसपा के टिकट से मेयर का चुनाव लड़तीं, उससे पहले ही उमेश पाल की हत्या हो गई। इसके बाद से शाइस्ता फरार है। उस पर 50 हजार रुपए का इनाम है।

समीरा जुमानी

समीरा जुमानी गैंगस्टर अबु सलेम की पत्नी है। समीरा जुमानी कई बम बलास्ट, फ़्रॉड, वसूली जैसे संगीन अपराधों में शामिल रही है। फिलहाल समीरा भारत से फ़रार है वह भारत की मोस्ट वांटेड़ लिस्ट में शामिल है।

spot_img
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

spot_img

Recent Comments

Ankita Yadav on Kavya Rang : गजल