Wednesday, July 24, 2024
spot_img
spot_img
HomeBusinessInterim Budget 2024 : वीएफएस के CEO ने की बजट की सराहना,...

Interim Budget 2024 : वीएफएस के CEO ने की बजट की सराहना, कहा- विकसित भारत पर केंद्रित बजट

spot_img
spot_img
spot_img

Interim Budget 2024 : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने आज मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का अंतिम बजट पेश किया है। चुनावी साल होने के कारण ये एक अंतरिम बजट था। वहीं इस बजट (Interim Budget 2024) के पेश होने के बाद उद्योगपतियों व वाणिज्यिक संगठनों ने अपनी प्रतिक्रिया दी। लेकरमाइक्रोफिनांस संस्था वीएफएस कैपिटल लिमिटेड के एमडी और सीईओ, कुलदीप माईती (Kuldeep Maiti) ने कहा कि, ‘हम गरीबों, महिलाओं, युवाओं और किसानों के कल्याण पर विशेष जोर देते हुए ‘विकासित भारत’ पर केंद्रित बजट पेश करने के लिए वित्त मंत्री की सराहना करते हैं।

Also Read – Know the 10 Key Points of the Interim Budget 2024

उन्होंने आगे कहा कि आज के अंतरिम बजट (Interim Budget 2024) में, मंत्री ने पिछले दशक में महिला उद्यमिता में पर्याप्त वृद्धि पर प्रकाश डाला एवं महिला उद्यमियों को सशक्त बनाने के लिए 30 करोड़ मुद्रा योजना ऋण आवंटित किए। इससे महिला उद्यमिता में और प्रगति होने की उम्मीद है, जिससे भारतीय अर्थव्यवस्था के समग्र विकास में योगदान मिलेगा।

कुलदीप माईती ने कहा, हम ‘लखपति दीदी’ योजना का लक्ष्य 2 करोड़ से बढ़ाकर 3 करोड़ करने के सरकार के फैसले की भी सराहना करते हैं, जो महिलाओं के लिए वित्तीय स्वतंत्रता को व्यापक बनाने के प्रति समर्पण दर्शाता है। यह विस्तारित दायरा अधिक महिलाओं को योजना के दायरे में लाएगा, जिससे उनकी आर्थिक स्वायत्तता पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

Also Read- Interim Budget 2024 : पीएम मोदी ने बजट को सराहा, कहा- युवा, गरीब, महिला और किसान सभी को करेगा सशक्त

इसके अलावा, पूर्वी क्षेत्र को भारत के विकास का एक शक्तिशाली चालक बनाने की सरकार की प्रतिबद्धता उल्लेखनीय है। हम इस कदम का स्वागत करते हैं क्योंकि इसमें पूर्वी क्षेत्र में वृद्धि और विकास के नए अवसरों को खोलने और इसके निवासियों को लाभान्वित करने का वादा किया गया है।’

बंधन बैंक के एमडी और सीईओ का रिएक्शन

इसके अलावा बंधन बैंक के एमडी और सीईओ चंद्रशेखर घोष ने कहा, “अंतरिम बजट व्यापक रूप से समावेशी विकास पर केंद्रित है और देश की 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था की आकांक्षाओं की दिशा में एक कदम है। आवास क्षेत्र पर ध्यान केंद्रित करने से सीमेंट, पेंट और स्टील जैसे कई या परिधीय क्षेत्रों को लाभ होगा और रोजगार के अवसर पैदा होंगे। महिला सशक्तिकरण पर ध्यान देने से अर्थव्यवस्था को और बढ़ावा मिलेगा। इसके अलावा, बुनियादी ढांचे और ग्रामीण विकास पर जोर भारत की विकास गाथा के लिए मजबूत आधार तैयार करेगा।”

देश-विदेश की ताजा खबरें पढ़ने और अपडेट रहने के लिए आप हमें Facebook Instagram Twitter YouTube पर फॉलो व सब्सक्राइब करें।

Join Our WhatsApp Group For Latest & Trending News & Interesting Facts

spot_img
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

spot_img

Recent Comments

Ankita Yadav on Kavya Rang : गजल